May 19, 2022

WAY OF SKY

REACH YOUR DREAM HEIGHT

वृद्धि और विकास में अंतर

मानव में परिवर्तनों की श्रृंखला ही मानव का वृद्धि और विकास (Growth and Development ) है | विकास प्राणी की वह विशेषता है , जिसका प्रारंभ गर्भधारण से होता है और जीवन पर्यंत चलता है |

 

मानव वृद्धि और विकास  (human growth and Development) : परिवर्तन ही संसार का नियम है , चाहें वस्तु सजीव हो या निर्जीव हो उनमे हमेशा कोई ना कोई परिवर्तन होता रहता है |मानव में परिवर्तनों की श्रृंखला ही मानव का वृद्धि और विकास (Growth and Development ) है | विकास प्राणी की वह विशेषता है , जिसका प्रारंभ गर्भधारण से होता है और जीवन पर्यंत चलता है |तो चलिए जानते है की वृद्धि और विकास में क्या अंतर है |

वृद्धि और विकास में अंतर 

Differences between  growth and Development

Sr.वृद्धि विकास
1.वृद्धि में केवल शारीरिक परिवर्तन होते है विकास में शारीरिक , मानसिक और
व्यवहारिक परिवर्तन होते है |
2.वृद्धि मात्रात्मक होती है |विकास गुणात्मक होता है |
3.वृद्धि एक निश्चित समय तक ही होती है |विकास जीवन पर्यंत तक चलता है
4.मानव में वृद्धि कोशिका विभाजन से होती है |विकास वातावरण के साथ परिपक्वता व अंतक्रिया से होता है
5.वृद्धि विकास का एक भाग है |विकास एक व्यापक क्षेत्र है |
6.वृद्धि केवल एक निश्चित भाग या अंग की दर्शाती है |विकास के अंतर्गत सम्पूर्ण भागों में परिवर्तन होता है |
7.वृद्धि का आकलन मात्रात्मक होता है |विकास का आकलन गुणात्मक होता है, जो विभिन्न परिस्थतियो के द्वारा होता है |
वृद्धि और विकास में अंतर
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x