March 8, 2021

WAY OF SKY

REACH YOUR DREAM HEIGHT

वचन किसे कहते है ?

वचन की परिभाषा , प्रकार और उदाहरण

व्याकरण में वचन का अर्थ है संख्या। जिससे किसी विकारी शब्द की संख्या का बोध होता है, उसे वचन कहते हैं |

वचन दो प्रकार के होते हैं-

(1) एकवचन-

जिस शब्द में किसी व्यक्ति या वस्तु की संख्या एक होने का पता चले उसे एकवचन कहते हैं, जैसे-लडका खेल रहा है। खिलौना टूट गया है। यह मेरी पुस्तक है।
इन वाक्यों में आए लडका, खिलौना तथा पुस्तक शब्द एकवचन है।

(2) बहुवचन-

जिस शब्द से किसी व्यक्ति या वस्तु की संख्या एक से अधिक होने का पता चले, उसे बहुवचन कहते हैं, जैसे-लडके खेल रहे हैं। खिलौने टूट गए। ये पुस्तकें मेरी हैं।
इन वाक्यों में आए लडके, खिलौने एवं पुस्तकें शब्द बहुवचन हैं।

बहुवचन बनाने के नियम-

(1) शब्दांत ’अ’ को ’ए’ बदलकर-

पुस्तक-पुस्तकेंदाल-दालेंराह-राहें
सडक-सडकेंकलम-कलमेंदीवार-दीवारें

(2) शब्दांत ’आ’ को ’ए’ बदलकर-

रसगुल्ला-रसगुल्लेलडका-लडकेपपीता-पपीते
बस्ता-बस्तेकमरा-कमरेबेटा-बेटे

(3) शब्दांत में आए ’आ’ के साथ ’एंॅ’ जोडकर-

बाला-बालाएंॅकविता-कवताएंॅ

(4) ’ई’ वाले शब्दों के अंत में ’इयांॅ’ लगाकर-

नदी-नदियांॅखिडकी-खिडकीयांॅलडकी-लडकीयांॅ
स्त्री-स्त्रियांॅदेवी-देवियांॅसाडी-साडियांॅ

(5) स्त्रीलिंग शब्द के अंत में आए ’या’ को ’यांॅ’ में बदलकर-

चिडिया-चिडियांॅडिबिया-डिबियांॅगुडिया-गुडियांॅ

(6) स्त्रीलिंग शब्द के अंत में आए ’उ’ ’ऊ’ के साथ ’एंॅ’ लगाकर-

वधू-वधुएंॅवस्तु-वस्तुएंॅबहू-बहुएंॅ

(7) ’इ’ ई स्वरान्तवाले शब्दों के साथ ’यों’ लगाकर तथा ’ई’ की मात्रा को ’इ’ में बदलकर-

जाति-जातियोंरोटी-रोटियांेनदी-नदियों
गाडी-गाडियोंअधिकारी-अधिकारियोंलाठी-लाठियों

(8) एकवचन शब्द के साथ जन, गण, वर्ग, वृंद, मण्डल, परिषद् आदि लगाकर।

भक्त-भक्तजनखेती-खेतिहरमंत्री-मंत्रिमंडल,मंत्रिपरिषद्
गुरू-गुरूजनयुवा-युवावर्ग
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x