January 23, 2021

WAY OF SKY

REACH YOUR DREAM HEIGHT

जीवविज्ञान का अर्थ और परिभाषा Meaning and definition of biology

जीवविज्ञान का अर्थ और परिभाषा Meaning and definition of biology

जीवविज्ञान का अर्थ और परिभाषा :

जीवविज्ञान (Biology) एक प्राकतिक विज्ञान ( Natural science) है जिसमे सभी प्रकार के जीवो की रचना एवं जैव प्रक्रमो (Bio Process) का अध्ययन किया जाता है | इसके अंतगर्त जीवो की संरंचना , आकार, विकास ,वृद्धि , वितरण , नामकरण , वर्गीकरण के साथ जीवो से संबंधित सभी प्रकार के विषयों का अध्ययन किया जाता है ,जीव विज्ञान (Biology) के अंतर्गत आता है |

जीवविज्ञान (Biology)

जीव विज्ञान का अर्थ और परिभाषा क्या है ? (What is Meaning and definition of biology ?)
जीव विज्ञान का अर्थ और परिभाषा (Meaning and definition of biology) :

BIOLOGY : शब्द की ग्रीक भाषा के शब्द “ बायोस (bios) तथा लोजिया (logia) “ से मिल कर हुआ है | आधुनिक युग में biology शब्द का प्रयोग लैमार्क ने 1801 में किया था | लेकिन biology शब्द का लैटिन भाषा के रूप में सर्वप्रथम प्रयोग 1736 में कार्ल लिनियस ने किया था |

अरस्तु को  जीवविज्ञान का जनक (Father of biology ) कहा जाता है |

साधारण शब्दों में कहा जाए तो जीव विज्ञान सभी प्रकार के सजीवो के अध्ययन का विषय है जिसमे पादप और जंतु दोनों का ही अध्ययन होता है |

सजीवता के लक्षण (characteristics of livingness ) :

जीवो में सजीवता के कुछ लक्षण होते है जिसे देख कर आप पता कर सकते है की कौन सजीव है और कौन निर्जीव ?

गति (motion) :

सभी प्रकार के सजीव किसी ना किसी प्रकार की गति दर्शाते है जैसे जंतु चल कर अर्थात एक स्थान से दुसरे स्थान पर चल कर गति करते है | लेकिन पादपो में गति स्थान परिवर्तन के रूप में ना होकर दुसरे अन्य रूपों में दिखाई देती जैसे की पतियों और पुष्पों का खुलना और बंद होना |

श्वसन (breath):

श्वसन सभी का महत्वपूर्ण लक्षण है यह एक प्रकार की जैव रासायनिक क्रिया है जिसमें सभी जीवो की कोशिकाओ में ऑक्सीजन की उपस्थिति में जटिल कार्बनिक भोजन सरल अकार्बनिक पदार्थो में परिवर्तित होता है और उर्जा मुक्त होती है |

संवेदनशीलता (Sensitivity) :

सभी सजीव अपने आस पास के वातावरण के परिवर्तनों के प्रति संवेदनशील होते है जैसे ताप , दाब , में परिवर्तन पर प्रतिक्रिया करना इसके अलावा वो खतरों के प्रति भी प्रतिक्रिया दिखाते है |

वृद्धि (Growth) :

    वृद्धि भी सजीवो का महत्वपूर्ण गुण है पादपो और जन्तुओ में वृद्धि अलग – अलग प्रकार की होती है | लेकिन दोनों ही अपने जीवन काल किसी ना किसी प्रकार से वृद्धि करते है |

पोषण (Nutrition) :

जीवो को जीवित रहने के लिए पोषण की आवश्यकता होती है पोषण से ही जीव अन्य कार्य कर पाते है , जंतु अपना पोषण मुह से ग्रहण करते है जबकि पादपो में ये क्रिया उनकी जड़ों (मूल) से होती है |

जनन (Reproduction) :

सभी जीव अपने जैसी अपनी प्रतिलिपी संतान के रूप में बनाते है |इस क्रिया के द्वारा जीव अपने अनुवांशिक लक्षणों की एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में स्थानांतरित करते है |

पाचन (Digestion) :

                पोषक पदार्थो को ग्रहण करने के बाद उसका पाचन आवश्यक होता है इसके लिए जीवो में एक पाचन तंत्र पाया जाता है |

उत्सर्जन (Emission) :

                जीव के शरीर में उपस्थित अपशिष्ट पदार्थो को बाहर निकलना भी जीवो की सजीवता का लक्षण है |

 

जीवविज्ञान की शाखायें (Branches of Biology) :

जीवविज्ञान को मुख्यत: दो भागों में विभाजित कर सकते है |

  1. जंतु विज्ञान (Zoology)
  2. वनस्पति विज्ञान (botany)

जीव विज्ञान को जंतु विज्ञान और वनस्पति विज्ञान में विभक्त किया गया, लेकिन जीव विज्ञान का क्षेत्र बहुत ही विशाल है तो ये दोनो विषय आगे जा कर और भी शाखाओ में विभक्त हो जाते है |

 

जंतु विज्ञान (Zoology) :

जन्तुओ से संबंधित विज्ञान है जिसमे सभी प्रकार के जन्तुओ का अध्ययन किया जाता है , जंतु जगत में उन जीवो को सम्मलित किया जाता है जिसमे कोशिका भित्ति का अभाव होता है | जो प्रचलन में समर्थ लेकिन स्वयं भोजन का निर्माण नही कर सकते है |

वनस्पति विज्ञान (Botany) :

ये पादपो से संबंधित विज्ञान है इसमे सभी प्रकार के पादपो का अध्ययन करते है , पादप जगत में उन जीवो को सम्मिलित किया गया है जिसमें सेलुलोस से बनी कोशिका भित्ति उपस्थित होती है , तथा इसके साथ – साथ क्लोरोफिल और प्रकाश संश्लेषण की क्रिया भी उपस्थित हो |

जीवविज्ञान का अर्थ और परिभाषा (Meaning and definition of biology)
1
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x